लघु उद्योगों का अनुपालन बोझ कम कर रही ‘ईजमाई जीएसटी ’

नई दिल्ली। जीएसटी साफ्टवेयर एप कंपनी ‘ईजमाई जीएसटी’ लघु एवं मध्यम श्रेणी के उद्योगों को नई अप्रत्यक्ष कर प्रणाली व्यवस्था के अनुपालन में सक्षम बनाने के लिये काम कर रही है। कंपनी ने स्वयं यह जानकारी दी है। कंपनी ने कहा है कि लघु उद्योगों के समक्ष कुछ मुद्दे हैं जिनकी वजह से कई उद्यम अनुपालन में पीछे रह गये हैं।
ईजमाई जीएसटी के सह-संस्थापाक अशीष मित्तल ने कहा कि अब तक 50 प्रतिशत छोटी एवं मध्यम इकाइयां अनुपालन में पीछे चल रही हैं। इसमें कहा गया है, ‘जीएसटीआर- 1 भरने के लिये केवल दस दिन का समय बचा है और उसके बाद ही इनपुट क्रेडिट दिखना शुरू हो जायेगा। जब तक इनपुट क्रेडिट रिफंड के जरिये मिलने वाला धन प्रवाह में नहीं आयेगा और उससे जरूरी कार्यशील पूंजी उपलब्ध नहीं होगी तब तक कारोबारियों के समक्ष कठिनाई बनी रहेगी।’ कंपनी के मुताबिक सरकार के पास करीब 23,000 करोड़ रुपये का इनपुट क्रेडिट अटका पड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *