सागर रत्ना ने अपनी पहुंच का विस्तार किया, सेक्टर-104, नोएडा में खोला नया आउटलेट

नोएडा। 32 साल पहले श्री जयराम बानन ने डिफेंस कॉलोनी मार्केट, नई दिल्ली में अपने पहले दक्षिण भारतीय शाकाहारी रेस्त्रां : सागर रत्ना से एक मामूली शुरुआत की थी। आज, एक निर्विवाद डोसा किंग के रूप में उनका कद काफी ऊंचा है। देश भर के 12 राज्यों के अब इसके 90 आउटलेट हैं।
सागर रत्ना ने अब अपना विस्तार नोएडा में किया है और सेक्टर 104 स्थित स्टार्लिंग मॉल में अपना नया आउटलेट खोला है। सेक्टर 104 तेजी से विकसित हो रहा क्षेत्र है और आस-पास में प्रीमियम आवासीय सोसाइटी तथा कॉरपोरेट कार्यालय हैं। नया स्टोर सीओसीओ मॉडल वाला है जहां 88 कवर हैं और इसे बढ़ाकर 100 किया जा सकता है। नया खुला सागर रत्ना देखने में नया और आधुनिक तथा समकालीन हैं। इसकी दीवारें खूब खूबसूरती से रंगी हैं और इन्हें कलाकृतियों व अन्य आकृतियों से सजाया गया है। यह रेस्त्रां किट्टी पार्टियों के लिए भी आदर्श है।
खाने के शौकीनों के लिए सागर रत्ना कई तरह के शाकाहारी दक्षिण भारतीय व्यंजन सबसे हाईजेनिक स्थितियों में परोसता है। इनमें कई तरह के डोसा, वड़ा, उत्थपम आदि शामिल हैं। इन्हें शुद्ध घी और तेल में पकाया जाता है। इसकी चटनी, सांभर और रसम में सही मात्रा सारी चीजें होती हैं ताकि हर किसी को पसंद आए। सागर रत्ना थाली मुंह में पानी लाने वाला कौम्बो है जिसमें भिन्न किस्म की सब्जियां होती हैं और इसे अचार, मीठे दही तथा करारे पापड़ के साथ परोसा जाता है। यहां के रेस्टोरेंट मैनेजर श्री अमित पटवाल ने बताया कि सागर रत्ना के अन्य रेस्टोरेंट के मुकाबले यह रेस्टोरेंट आज के युवा वर्ग को ध्यान में रखते हुए थोड़ा आधुनिक रूप में तैयार किया गया है क्योंकि शहर के इस हिस्से में ज्यादातर युवा और कपल हैं जो यहां आना, पार्टी करना पसंद करते हैं। यहां पर 102 लोगों के बैठने कि व्यवस्था है तथा इसके हाॅल में 30-40 बर्थडे पार्टी या किसी छोटे-मोटे सेलिब्रेशन में शामिल हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि यहां पर खाने-पीने के रेट हमेशा एक से रहते हैं। सागर रत्ना से यदि कोई ऑनलाइन खाना ऑर्डर करना चाहता है तो वो ‘ज़ोमैटो’ और ‘स्वीगी’ के ज़रिए खाना ऑर्डर कर सकता है।
सागर रत्ना की विशेषता असली दक्षिण भारतीय शाकाहारी व्यंजन है। फिल्टर कॉफी की अनूठी अलग खुश्बू इसकी एक और विशेषता है। यह ऐसा लगता है जैसे दक्षिण भारत के घरों में या फिर दक्षिण भारतीय लोगों के घर से आमतौर पर आता है। यही नहीं, इसे स्टेनलेस स्टील के डबरा में परोसा जाता है जो इसे और असली बनाता है वो भी वास्तविक फ्लेवर के साथ।
असली दक्षिण भारतीय भोजन परोसने के साथ सागर रत्ना में मुंह में पानी लाने वाले उत्तर भारतीय और चाइनिज डिश भी परोसे जाते हैं। इस समय यहां सर्दियों का स्पेशल मेन्यू चल रहा है और इसमें सरसों का साग तथा मक्के की रोटी, गाजर का हलवा और गर्म बादाम दूध शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *