खूबसूरत लोकेशन के बीच युवा जोड़े की कहानी है ‘नमस्ते इंग्लैंड’

फिल्म का नाम : ‘नमस्ते इंग्लैंड’
फिल्म के कलाकार : अर्जुन कपूर, परिणीति चोपड़ा, सतीश कौशिक, आदित्य सील, अनिल मांगे, अलंकृता सहाय
फिल्म का निर्देशक : विपुल अमृतलाल शाह
अवधि : 2 घंटा 15 मिनट
रेटिंग : 1.5/5

निर्माता-निर्देशक विपुल अमृतलाल शाह ने पहले फिल्म ‘नमस्ते लंदन’ बनाई थी जिसमें अक्षय और कटरीना मुख्य भूमिकाओं में थे, यह फिल्म दर्शकों को काफी पसंद आई थी। पिछली फिल्म की सफलता को देखते हुए विपुल ने इसका सीक्वल बनाया जिसका नाम है ‘नमस्ते इंग्लैंड’। फिल्म के मुख्य किरदार परिनीती और अर्जुन कपूर हैं। फिल्म दशहरे से एक दिन पहले यानि आज रिलीज़ हो चुकी है।

फिल्म की कहानी :
कहानी की शुरुआत होती है पंजाब से जहां परम (अर्जुन कपूर) दशहरे जश्न में जसमीत (परिणिती चोपड़ा) को डांस करते हुए देखता है और उसे जसमीत से प्यार हो जाता है। जसमीत का हमेशा से एक ही सपना है कि वह ज्यूलरी डिजाइनर बने और अपने पैरों पर खड़ी हो सके। लेकिन जसमीत के दादाजी और भाई की सोच दकियानूसी है वो सोचते हैं कि औरतें बच्चे पैदा करने और घर संभालने के लिए होती हैं। इसलिए वो नहीं चाहते हैं कि घर कि लड़की कभी भी नौकरी करे। वहीं जसमीत हर कीमत पर अपने सपनों को पूरा करना चाहती है। यह सोचते हुए कि शादी के बाद जसमीत का पति उसके सपनों को पूरा करने देगा इसलिए वो परम से शादी कर लेती है। फिर एक ट्वीस्ट आता है और जसमीत अपने सपनों को पूरा करने के लिए लंदन चली जाती है। जसमीत के पीछे परम भी तिकड़म लगाकर लंदन पहुंच जाता है। वहां जाकर परम और जसमीत के जिंदगी में क्या मोड़ आते हैं, उन्हें वहां क्या-क्या संघर्ष करना पड़ता है…….आगे कि कहानी को जानने के लिए आपको सिनेमाहाॅल जाकर फिल्म देखना पड़ेगा।

परिनीती और अर्जुन पहले भी फिल्म ‘इश्कज़ादे’ में नज़र आ चुके हैं और इस फिल्म में भी दोनों साथ नज़र आ रहे हैं। दोनों ने अपने एक्टिंग के ज़रिए अपने-अपने किरदारों में जान डालने कि पूरी कोशिश की है लेकिन कहानी कमज़ोर होने के कारण फिल्म बोरिंग लगती है। फिल्म के सहायक कलाकारों की एक्टिंग ठीकठाक हैं। यदि बात करें फिल्म के स्क्रीनप्ले की तो स्क्रीनप्ले भी ढीला है। फिल्म के गाने ऐसे नहीं हैं कि उन्हें सुनने के बाद गाने आपके दिमाग में रहें और आप देर तक उन्हें गुनगुना पाएं। फिल्म को खूबसूरत लोकेशन पर फिल्माया गया है।

फिल्म क्यों देखें : फिल्म की कहानी में कोई नयापन नहीं है इसलिए फिल्म बोरिंग है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *