सदिर्यो में अपने हाथों पर दीजिए विशेष ध्यान

-शहनाज हुसैन
अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सौन्दर्य विशेषज्ञ तथा हर्बल क्वीन
सर्दियों के मौसम में हाथों का रूखापन आम समस्या है दरअसल हाथों की पिछली ओर वाली त्वचा काफी पतली होती है तथा इसमें तैलीय ग्रन्थियां भी कम होती हैं। शरीर के बाकी हिसों की बजाय हाथ सबसे ज्यादा खुले रहते हैं तथा सबसे ज्यादा उपयोग में आने की वजह से बार-बार साबुन के सम्पर्क में आते हैं जिसे हाथ शुष्क और रूखे हो जाते हैं। हालाँकि हाथों के रूप निखार के बिना आपकी खूबसूरती की कवायद अधूरी ही रहती है लेकिन फिर भी आप हाथों के प्रति उतनी संजीदगी नहीं दिखाते जितनी आप चेहरे या बालों के प्रति दिखाते हैं और यही वजह है की सर्दियों में हाथ अक्सर बेजान से दिखते हैं। आम तौर पर हाथों की उपेक्षा की वजह से उँगलियों की त्वचा फटने लगती है तथा हाथों के साबुन या डिटर्जेंट के लगातार सम्पर्क/उपयोग एवं ज्यादा लापरवाही से ब्लीडिंग भी शुरू हो जाती है। लेकिन ऐसा नहीं है की आप हाथों को कोमल या सुन्दर नहीं रख सकतीं बल्कि सर्द हवाओं से भरे मौसम में महज कुछ साधारण घरेलू उपायों से आप हाथों को चेहरे जैसा सुन्दर बना सकती हैं।

  • सर्दियों में त्वचा द्वारा वातावरण में नमी छोडे जाने की वजह से हाथ काफी खुरदरे हो जाते है तथा हाथों की नमी बनाए रखने के लिए घर में धुलाई करती बार रबड़ के दस्ताने पहनने चाहिए जोकि आपको समीप की दवाई की दुकान पर असानी से मिल जाते है।
  • सर्दियों के मौसम में जहाँ हम बाकि अंगों को पूरी तरह से कवर करके रखते हैं लेकिन हम हाथों को ज्यादातर मौसम की मार झेलने के लिए नंगा रहने देते हैं। इस मौसम में जब भी आप घर से बाहर निकलें तो पहले हाथों पर अच्छी नमी वाली क्रीम लगा कर हाथों को ऊनी दस्तानों से जरूर ढक लें जिससे हाथों की त्वचा को ठण्डी हवाओं की मार से सुरक्षा मिल जाएगी तथा आपके हाथों की कोमलता बरकरार रहेगी।
  • सर्दियों में हमेशा नमी युक्त, ऑलिव ऑयल/एलो वेरा युक्त साबुन का ही उपयोग करें तथा आजकल बाजार में ऐसे अनेक उत्तम क्वालिटी के साबुन उपलब्ध हैं, हाथों को दिन में सवसे ज्यादा धोना पड़ता है क्योंकि ज्यादातर कामों में हाथों का अधिकतम उपयोग होता है। लेकिन हमेशा याद रखें की हाथों को धोने के बाद इनमें हमेशा मॉइस्चरईजर लगाना कतई ना भूलें।
  • नहाते समय हाथों का खास ध्यान रखना चाहिए। नहाते समय हाथों पर तेल तथा आद्रता का प्रयाग करना चाहिए। वास्तव में नहाने के तुरन्त बाद शरीर में बाॅडी लोशन तथा क्रीम लगाने से शरीर में आद्रता तथा नमी बनी रहती है। हाथों की सुन्दरता के लिए आप निम्नलिखित सौदर्य टिप्स प्रयोग में ला सकती है।
  • नहाने से पहले हाथों तथा पांवों पर तेल की मालिश करें जिससे त्वचा की कोमलता बढ़ती है। इसके लिए आप तिल या जैतून का तेल प्रयोग में ला सकती है। अत्याधिक खुशकी की दिशा में आप शुद्ध बादाम तेल को गर्म करके मालिश के लिए उपयोग में ला सकती है।
  • भारतीय घरों में परम्परागत तौर पर बेसन, दही तथा हल्दी को मिलाकर पेस्ट बनाकर प्रयोग में लाया जाता है। आप इस पेस्ट को 20 मिनट तक लगाकर इसे हल्के से खुरच दीजिए तथा बाद में ताजें पानी से नहाईगा। इस प्रक्रिया को हफते में दो-तीन बार प्रयोग में लाइए। शुष्क तथा सांवली त्वचा वाले हाथों के लिए दो चम्मच सूरजमुखी तेल, 2 चम्मच नीबू जूस तथा एक चम्मच खुरदरी चीनी लीजिए तथा इन सब को मिलाकर पेस्ट बना लीजिए। इस पेस्ट को हाथों पर 15 मिनट तक लगाकर पेस्ट को रगड़कर हटा दें तथा आप इस प्रक्रिया को हफते में तीन बार प्रयोग में ला सकती है।
  • हाथों तथा पांवों की त्वचा की अत्याधिक खुश्की से निपटने के लिए एक चम्मच गलिसरीन को 100 मिली लीटर गुलाब जल में मिलाऐं। इस मिश्रण को हाथों तथा पावों पर लगाने से इन अंगों पर नमी तथा कोमलता आ जाती है।
  • गुलाब जल और ग्लिसरीन का मिश्रण बना कर एक बोतल में भर कर इसे फ्रिज में रख लें तथा दिन में तीन चार बार हाथों पर लगा कर मसाज कर लें। इससे त्वचा में नमी बनी रहेगी तथा हाथों के फटने आदि की समस्या का निदान होगा
  • हाथों के रंग को साफ तथा मुलायम करने के लिए अपनी हथेली में थोड़ी चीनी रखकर इसमें नीबूं रस मिलाकर हाथों की पिछली त्वचा पर हल्के से मालिश कीजिए तथा बाद में हाथ धो डालिए। संतरे के ताजा छिल्के लेकर उन्हें पीस दीजिए तथा इसे अपने हाथों में मलिए। इससे हाथों की त्वचा में निखार आएगा। अत्याधिक शुष्क हाथों तथा नाखूनों के लिए एक चम्मच बादाम तेल, एक चम्मच तिल तेल तथा एक चम्मच गेहू के बीजों का तेल मिलाकर मिश्रण बना लीजिए। इसे अपनी त्वचा तथा नाखूनों पर प्रतिदिन प्रयोग में लाईए।
  • बादाम तेल तथा शहद को बराबर मात्रा में मिलाकर इसे नाखूनों तथा त्वचा पर मिलाइए।
  • अगर किसी वजह से आपके हाथों की त्वचा फट जाये तो इसे कदापि काटना, नोंचना या चबाना नहीं चाहिए क्योंकि इससे आपके मुँह के बैक्टीरिया आपकी त्वचा के सम्पर्क में आ सकते हैं जिससे घाव को भरने में ज्यादा समय लग सकता है। फटी त्वचा पर बैंडेज लगा कर रखिये।
  • हाथों के फटी त्वचा को मैनीक्योर में इस्तेमाल कैंचीं की मदद से सावधानी पूर्वक हटाएं। नरम व् मुलायम त्वचा को ट्रिम ना करें क्योंकि यह दर्द भरा हो सकता है।
  • शुष्क नाखूनों के लिए, किसी वनस्पति तेल में अपने नाखूनों को 10 मिनट तक डुबों कर रखें तथा इसके बाद गीले तौलिए से धो डाले। हाथों में दाग धब्बों के लिए नीबूं के छिल्कों से दाग धब्बों को रगड़िये इसमें दाग धब्बे हट जाऐंगे।
  • हाथों में चमक लाने के लिए ताजा संतरे को छिलकों को पीसकर इन्हें हाथ पर लगाएं तथा इससे हाथों की सुन्दरता को चार चांद लग जायेंगे।
  • हाथों की शाही उपचार प्रदान करने के लिए चार चम्मच बादाम तेल में एक चम्मच गुलाब जल मिलाईए। इस मिश्रण में आधा चम्मच बैनजोइन टिंचर बूंद-बूंद करके मिलाइए तथा इन सब का मिश्रण तैयार कर लीजिए। इस मिश्रण को हाथ पर लगाकर हाथों पर सूती कपड़े के मोजें पहन कर रातभर रहने दीजिए तथा अगली सुबह सादे पानी से धो डालिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *