क्षत्रिय समाज के विकास के लिए अखिल भारतीय क्षत्रियवादी पार्टी का गठन : राजा राजेन्द्र सिंह

नई दिल्ली। अखिल भातरीय क्षत्रिय महासभा ने एक नई पार्टी अखिल भारतीय क्षत्रियवादी पार्टी बनाने के लिए रजिस्ट्रेशन करा दिया है ताकि क्षत्रिय समाज का विकास हो सके और संसद में भी क्षत्रिय समाज के विकास के लिए काम किया जा सके अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा राजेन्द्र सिंह का कहना है कि आज जो भी पार्टी है सभी समान्य के लिए कुछ नहीं करते है। सिर्फ अन्य के विकास की बात करते है और समान्य वर्ग लोगों के साथ हमेशा अन्याय करते है। इसलिए मध्य प्रदेश में अखिल भातरतीय क्षत्रिय महासभा के समर्थन से चुनाव लड़ा जायगा और भगवान राम के जन्म स्थल को भगवान राम का राज महल बनाया जाएगा।
महिला कार्यकारणी अध्यक्ष आरती चैहान का कहना है अखिल भातरीय क्षत्रिय महासभा आरक्षण समाप्त करने के लिए प्रयासरत है। समाज के प्रतिशाली युवाओं को रोजगार दिया जाय और एसी/एसटी एक्ट में संसोधन किया जाए। राष्ट्रीय मंत्री शक्ति सिंह चंदेल का कहना है कि अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा संपूर्ण विश्व के क्षत्रियों के नेतृत्व की महासभा है जिसका उद्देश्य अपने राष्ट्र की प्रजा की सुरक्षा विकास आस्था की रक्षा करना है अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा राजा राम के राज महल के निर्माण, आरक्षण को खत्म करते हुए सब पर समान कानून लागू करवाना, धारा 370 खत्म करते हुए अखंड भारत की संकल्पना के लिए संकल्पित है।
अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री उमेश कुमार सिंह का कहना है कि एसीध्एसटी एक्ट और नौकरी, उच्च शिक्षा में आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए। इसे खत्म कर सभी अकादमिक और नियुक्ति संबंधी मामलों में मेरिट आधारित अवसर मुहैया कराया जाए, जिसके चलते सामान्य वर्ग के लोगों का उत्पीडन होता है और सामान्य वर्ग के बच्चों के मन में आत्मविश्वास की कमी होती है। आज देश में सामान्य वर्ग के बच्चों के मन में कुंठा उत्पन्न हो रहा है।
राजा राजेन्द्र सिंह का कहना है कि अखिल भारतीय क्षत्रिया महासभा विस्तार करते हुए आज देश में मध्यप्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, जम्मू काश्मीर, गोवा, दिल्ली, राजस्थान, महाराष्ट्र, झारखंड, कर्नाटक, बिहार, हरियाण, आदि प्रदेशों में लगभग 1700 पदाधिकारियों की नियुक्ति कर चुका है और जल्द से जल्द 5000 का लक्ष्य पूरा करने का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *