एनगुरु ऐप को मिला जिओ का साथ

नई दिल्ली। गुणवत्ता पूर्ण अंग्रेजी शिक्षण प्रत्येक भारतीय को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से, रोजगार योग्यता-केंद्रित अंग्रेजी शिक्षण तकनीकी स्टार्टअप, किंग्स लर्निंग ने जिओ फोन के साथ अपनी ताकत का गठजोड़ किया है। इसका नया लॉन्च किया गया एनगुरु जियो फोन ऐप अब बड़े पैमाने पर भारतीय उपयोगकर्ताओं की जरूरतों को पूरा करेगा जो कि काई ओएस संचालित स्मार्ट फीचर फोन का उपयोग कर रहे हैं। जीओ फोन पर इसके लांच के 24 घंटों के भीतर, एनगुरु ऐप 120,000 से अधिक डाउनलोड प्राप्त करने में कामयाब रहा, और इसके लॉन्च के बाद इसे पहले 18 दिनों में कुल मिलाकर एक लाख बार डाउनलोड किया गया है।
सितंबर 2016 में लॉन्च होने के बाद से जियो ने पूरे दूरसंचार उद्योग की नकेल कश दिया है – कीमतों को नाटकीय रूप से नीचे लाना और एक साल के भीतर बाजार के 14% हिस्से पर कब्जा करना। जुलाई 2017 में शुरू किया गया, जियो फोन, 4जी की क्षमता और सभी महत्वपूर्ण कार्यक्षमताएं जो भारत के विशाल फीचर फोन उपयोगकर्ताओं को उपलब्ध है, प्रस्तावित कर स्मार्ट और फीचर फोन के बीच के अंतराल को भरता है।
हालांकि, एनगुरू ऐप भारत में अनेक स्नातकों, मुख्यतः साधन हीन पृष्ठभूमि से आने वाले स्नातकों द्वारा सामना किए जाने वाले रोजगार योग्यता के मुद्दों को संबोधित करने के लिए बनाया गया था, यह उन लोगों तक पहुंचने में असमर्थ था जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं थे। बड़ी आबादी के बीच स्मार्ट फीचर फोन के बढ़ते उपयोग को देखते हुए, किंग्स लर्निंग एनगुरु ऐप को जियो फोन पर लाने के लिए बहुत उत्सुक था।
एनगुरु जिओ फोन ऐप के लॉन्च पर टिप्पणी करते हुए किंग्स लर्निंग के संस्थापक और सीईओ श्री अर्शन वकिल ने कहा, ष्हम जिओ फोन पर आने को लेकर रोमांचित हैं। यह एक क्रांतिकारी डिवाइस है जिसने भारत के बड़े पैमाने पर फीचर फोन यूजर बेस को स्मार्ट फोन की सबसे महत्वपूर्ण सुविधाओं तक पहुंच मुहैया कराया है। एनगुरु के लिए, यह एक बेहद प्रासंगिक लक्षित उपयोगकर्ताओं तक पहुँच को पूरी तरह खोलता है जिनकी जरूरतों को पूरा करने में हम अभी तक असमर्थ थे। अधिकांश जियो फोन प्रयोक्ताओं के लिए एनगुरु उनका पहला मोबाइल शैक्षिक उपकरण होगा और यह हमारे लिए बहुत ही रोमांचक है। प्रारंभिक प्रतिक्रिया बहुत बढ़िया रही है और भविष्य में जो आने वाला है हम उसकी प्रतीक्षा कर रहे हैं!ष् इस एसोसिएशन के माध्यम से, किंग्स लर्निंग शुरू में उपयोगकर्ता बनाने तथा इसके बाद मूर्त शिक्षण परिणाम उत्पन्न करने और बाद में मौद्रीकरण को संबोधित करने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। वर्तमान में जियो फोन भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं के लिए एक नया एवेन्यू है और किंग्स लर्निंग पहली बार शैक्षिक प्रौद्योगिकी तक पहुंच प्राप्त करने वाले उन उपयोगकर्ताओं के लिए महत्त्व निर्मित करने के प्रयास में है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *