मास्टरकार्ड और काॅन्फेडरेशन आॅफ आॅल इंडिया ट्रेडर्स ने डिजिटल रथ कैम्पेन की सफलतापूर्ण समाप्ति की

नई दिल्ली। मास्टरकार्ड और काॅन्फेडरेशन आॅफ आॅल इंडिया ट्रेडर्स सीएआईटी ने हाल ही में ‘डिजिटल रथ‘ कैम्पेन के सफलतापूर्ण समाप्ति की घोषणा की। भारत को लेस-कैश अर्थात कम नकद होने वाली अर्थव्यवस्था बनाने के भारत सरकार के ध्येय को समर्थन देनेवाले इस कैम्पेन का दिल्ली, लखनऊ, ग्वालियर, झांसी, कानपुर, कोलकाता, पुडुचेरी, नागपुर, भोपाल, पुणे और नई मुंबई में जागृती निर्माण करने के लिए और लगभग १० लाख मर्चंट्स के पास डिजिटल पेमेंट्स का इस्तेमाल और स्वीकार किया जाये इसलिए आयोजन किया गया।
इस कैम्पेन की समाप्ती नई मुंबई में श्री.शिवाजीराव पेनकर, सचिव, एग्रीकल्चरल प्रोडूस मार्केट कमिटी (एपीएमसी) के हस्तों से सीएआईटी के महाराष्ट्र चाप्टर के अध्यक्ष श्री.किर्ती राणा की उपस्थिती में आयोजित की गयी।
इस कैम्पेन के एक भाग के रूप में मास्टरकार कार्ड ने ‘मास्टर युअर कार्ड‘ प्रशिक्षण वर्कशॉप्स का आयोजन सहभागी हुए सभी शहरों के मर्चंट्स के लिए किया। इस कार्यक्रम में इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट्स के फायदे और अपनें व्यवसाय के लिए एक माध्यम के रूप में इसका ज्यादा  से ज्यादा लाभ किस तरह लिया जा सकता है इसकी जानकारी दी गयी।
इस कैम्पेन की शुरूआत में एक इंट्रोडक्ट्री विडीओ का भी लांच किया गया, जिसे युट्यूबपर ४६ लाख से भी अधिक व्यूज मिले है। इसके अलावा लगभग १.५ करोड़ से भी अधिक लोगों ने ये विडीओ कैम्पेन के फेसबुक पेजपर देखा है।
सीएआईटी के नैशनल सेक्रेटरी जनरल श्री.प्रवीण खंडेलवाल ने कहा, ‘‘डिजिटल रथ के परिणामों के बारे में हम बेहद खुश है और मास्टरकार्ड का उनके निरंतर सहकार्य के लिए आभारी है। हमें विश्वास है कि इस परियोजना के माध्यम से डिजिटल पेमेंट्स के इस्तेमाल का स्वीकार और उस बारे में जागृती बढाने के लिए हम मर्चंट्स को शिक्षा दे सके है।‘‘
मास्टरकार्ड के ग्लोबल कम्युनिटी रिलेशन्स के एक्जिक्युटिव डाईरेक्टर श्री.रवि अरोरा ने कहा, ‘‘लघु और मध्यम उद्योग भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था का आधार हैं। उनके पास व्यवसाय कुशलता और सुरक्षित पेमेंट्स के बारे में सही ज्ञान हो यह मास्टरकार्ड का महत्त्वपूर्ण मिशन है। नवम्बर २०१७ में शुरू किया गया डिजिटल रथ कैम्पेन हमारी इस वचनबद्धता को अधिक चालना देता है।‘‘
‘‘सीएआईटी जैसे स्थानीय साझेदारों के साथ साझेदारी करके ‘डिजिटल रथ‘ कैम्पेन ने १० लाख मर्चंट्स तक पहुंचकर उन्हें इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट्स के लाभ बतायें। हमारें स्थानीय साझेदारों के साथ काम करने का मूल्य हम जानते है और भारतीयअर्थव्यवस्था के विकास में योगदान देने के हम दोनों के समर्थन का एक हिस्सा इस रूप में इस साझेदारी को निरंतरशुरू रखने के लिए हम उत्सुक हैं।‘‘ ऐसा श्री.अरोरा ने कहा।
डिजिटल रथ प्रमोशनल कैम्पेन की नई दिल्ली में ८ नवम्बर २०१७ को भारत सरकार की केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री और वस्त्रमंत्री श्रीमती स्मृती इराणी के शुभहस्तों से शुरूआत की गयी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *