एसआरएम विश्वविद्यालय ने 2018 सत्र में दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन की शुरुआत की

एसआरएम यूनिवर्सिटी ने अपने समूह के सभी विश्वविद्यालयों में इंजीनियरिंग और टेक्नालॉजी फैकल्टी में बीटेक डिग्री प्रोग्राम के लिए ऑनलाइन आवेदन दाखिल किए जाने की शुरुआत होने की घोषणा की है। दाखिले की प्रक्रिया एसआरएम यूनिवर्सिटी, एसआरएम यूनिवर्सिटी एपी अमरावती, एसआरएम यूनिवर्सिटी हरियाणा सोनीपत के कट्टनकुलाथुर, रामापुरम, वड़ापलानी और एनसीआर दिल्ली कैम्पस के लिए एक होगी।
बीटेक में सभी दाखिले इंजीनियरिंग की संयुक्त प्रवेश परीक्षा एसआरएमजेईईई के जरिए होंगे। यह कंप्यूटर आधारित परीक्षा होगी जो देश भर के 130 केंद्रों तथा मध्य पूर्व के देशों में कुछ केंद्रों में 16 से 30 अप्रैल 2018 के बीच आयोजित की जाएगी। एसआरएमजेईईई 2018 के दोनों तरह केए अनिवासी और निवासी भारतीय आवेदन कर सकते हैं। एसआरएमजेईईई 2018 में योग्य पाए जाने वाले अनिवासी उम्मीदवार जो नियमित कांसेलिंग प्रक्रिया से देसी उम्मीदवारों से मुकाबले में रहेंगे, पूरे चार साल ट्यूशन फी में 35 प्रतिशत छात्रवृत्ति प्राप्त करेंगे। उनके पास यह विकल्प भी रहेगा कि वे एसआरएमजेईईई दिए बगैर सीधे अंतरराष्ट्रीय दाखिला श्रेणी के तहत आवेदन करें और अंतरराष्ट्रीय ट्यूशन फीस देकर किसी भी प्रोग्राम/ कैम्पस में दाखिला प्राप्त करें।
ऑनलाइन आवेदन की शुरुआत 1 नवंबर 2017 से हो चुकी है और 31 मार्च 2018 तक आवेदन प्राप्त किए जा सकेंगे। एसआरएम को हर साल जोरदार रेसपांस मिलता है। गए साल बीटेक में 1,50,000 से ज्यादा छात्रों ने आवेदन किया और इनमें भारत के सभी हिस्सों से भौगोलिकए सांस्कृतिक और सामाजिक आर्थिक प्रतिनिधित्व के साथ दुनिया भर के देशों का प्रतिनिधित्व रहा।
2018 के दाखिलों की प्रमुख खासियतों में एक यह है कि एसआरएम यूनिवर्सिटी में इंटर डिसिप्लिनरी एक्सपीरियंशियल ऐक्टिव लर्निंग (भिन्न विषयों में अनुभव के लिहाज से सक्रियता पूर्वक सीखने का माहौल) जिसे अंग्रेजी के शब्दों के पहले अक्षरों को मिलाकर आईडियल यानी आदर्श माहौल कहा गया है। भारत में छात्र भिन्न विषयों के प्रोग्राम और पाठ्यक्रम में लचीलापन पसंद करते हैं। एसआरएम विश्वविद्यालय इस मांग की पूर्ति करते हैं और प्रोग्राम कैसा हो इसका विकल्प पूरी तरह छात्रों पर छोड़ दिया जाता है। किसी भी विषय में मेजर कर रहे छात्र के पास यह विकल्प होगा कि वह इसमें मेजर स्पशलाइजेशन करे। इस तरह वह इस विषय में विस्तृत पढ़ाई कर पाएगा या इसी विषय में माइनर भी कर पाएगा और इसी या दूसरे विषय के पाठ्यक्रम भी पढ़ पाएगा। छात्र अपने लिए आदर्श मार्ग तय कर पाएंगे और यह उद्योग में इनटर्नशिप तथा टेक्नालॉजी एनैबल्ड ऐक्टिव लर्निंग से समृद्ध किया जा सकेगा। यह अमेरिका, सिंगापुर और दुनिया के अन्य हिस्सों के सर्वोच्च स्तर के विश्वविद्यालयों में से कुछ से साथ शैक्षिक गठजोड़ के जरिए किया जाएगा।
एसआरएम यैत्डद्ध यूनिवर्सिटी योग्य और प्रतिभाशाली छात्रों को कई छात्रवृत्तिए फीस में छूटए पढ़ाई और अनुसंधान में सहायता की पेशकश करता है। इनमें संस्थापक छात्रवृत्ति शामिल है। इसमें ट्यूशन और हॉस्टल फीस 100ः माफ रहती है और यह एसआरएमजेईईई, जेईईई, सीबीएसई ध्राज्य बोर्ड फाइनल में टॉप करने वालों के साथ खेल में उल्लेखनीय प्रदर्शन करने वालों के लिए है। इन योजनाओं से बड़ी संख्या में छात्र भारी लाभ उठा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *