न्यू कमर्स के लिए उदाहरण है फिल्म “माय विर्जिन डायरी” : नलिन सिंह

बिहार से तालुकात रखने के वाले कलाकारों द्वारा निर्देशित फिल्म “माय वर्जिन डायरी” को सिर्फ हिंदुस्तान ही नहीं अन्तराष्ट्रीय स्तर पर भी खूब सराहा जा रहा है। यह फिल्म जरुर दिल्ली विश्वविद्यालय के हिन्दू कॉलेज लाइफ पर आधारित है लेकिन इस फिल्म में जो सामाजिक संस्कृति और जो तड़का बिहार के रंग का लगा है, उसे भी खूब पसंद किया जा रहा है। यह फिल्म फिलहाल जिओ सिनेमा, एयरटेल मूवीज, बिगफ्लिक्स, चिल्क्स, हंगामा मूवी, नेट्टीवुड आदि पर फिल्म मोजूद है।
बिहार की पावन भूमि से तालुकात रखने वाले “माय विर्जिन डायरी” के निर्देशक नलिन सिंह ने बताया की मैं खुद बिहार के पटना का रहने वाला हूँ और पटना के ही सेट मिचेल्स हाई स्कूल से पास आउट हूँ और बाकी अधिकतर कलाकार और टीम भी बिहार से ही तालुक रखती है। हमने इस फिल्म के माध्यम से अपने बिहार की संस्कृति और उस मीठे लम्हे को दिखाने की कोशिश की है जिसे बिहार जैसे राज्यों से आने वाले छात्र दिल्ली में जीते है और सीखते है। वैसे तो फिल्म सच्ची घटना से प्रेरित है, लेकिन आज भी फिल्म को देखने के बाद मुझे तो बिहारी होने पर गर्व होता है और बाकी लोग भी यह जरुर महसूस कर रहे है।
इस फिल्म के स्क्रिप्ट राइटर अरुणेश रंजन जमशेदपुर से आते है। राकेश चौधरी जो कि इस फिल्म में लीड में है वो भी बिहार से ही है साथ ही मोहित तिवारी का बिहार से गहरा नाता और लगाव हैं। साथ ही नलिन सिंह ने बताया की इस फिल्म के माध्यम से हमने यह साबित करने की कोशिश की है कि बिना बजट के भी अच्छी फिल्म बनायी जा सकती है। यह उन नए लोगो के लिए अच्छा उदाहरण है जो कि बिना बजट के और सिर्फ डीएसलार की मद्दद से ही डिजिटल जगत में अच्छा पैसा कमा सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *