वरिष्ठ अभिनेता धर्मेन्द्र से प्रेरित है भारत में सबसे बड़ा आउटलेट ‘गरम-धरम’

हरियाणा का मुरथल हाईवे हब के रूप में प्रसिद्ध है और यह खाना खाने के शौकीनों और ट्रेवलरों की स्वादिष्ट खाने के लिए पसंदीदा जगह है। अच्छा खाना यात्रा करने के मजे को बढ़ाता है। राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित हरियाणा का मुरथल यात्रा के दौरान ठहर कर खाना खाने के लिए अच्छी जगह है।मुसाफिरों के खानपान के लिए मुरथल को और आकर्षक बनाने के लिए मालिक उमंग तिवारी, मिकी मेहता और वरिष्ठ अभिनेता धमेन्द्र ने 23 फरवरी, 2018 शुक्रवार को गरम-धरम का उद्घाटन किया।
उद्घाटन से प्रफुल्लित उमंग तिवारी ने इस अवसर पर कहा- ‘मैं धर्मेन्द्र का बहुत बड़ा फैन रहा हूं, मैं खाने और पिक्चर देखने का शौकीन हूं जिसने दो साल पहले दिल्ली में गरम-धरम खोलने की प्रेरणा दी। लोगों के प्यार और सहयोग के कारण हमने गरम-धरम का विस्तार करने का निर्णय किया है। इसे हमने मुरथल में खोलने का निर्णय किया क्योंकि मुरथल में लोगों को पहला प्यार भोजन से है। लिहाजा इससे अच्छी जगह खोलने की हो ही नहीं सकती थी। हमेशा की तरह हैंडसम दिख रहे धर्मेन्द्र जी ने कहा कि मैं अच्छे खाने का शौकीन हूं। इसलिए मेरे पास गरम धरम से जुड़ने का हर कारण मौजूद है। मैं जब भी दिल्ली जाता हूं तो यहां से होकर गुजरता हूं। मैं यहां अपनी फिल्मों को देखने के लिए आतुर रहता हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि मुरथल की इन खूबियों के कारण यहां का खाना और मजा बढ़ेगा।
निश्चित रूप से गरम धरम देश में सबसे बड़ा है। इसमें 1200 लोगों के बैठने की क्षमता है। मुरथल में यह अपनी तरह का पहला है। इसमें बैकरी, मिठाई और कैजुअल मील के अलग सेक्शन हैं। यहां पर मजा है, कुछ नया है, खाने का स्वर्ग है। बाॅलीवुड के वरिष्ठ अभिनेता हरेक के हर दिल अजीज हैं और अपने जवानी के दिनों से लोगों के दिलों पर राज कर रहे हैं। उनकी फिल्में, डायलाॅग और गाने लीजेंड की श्रेणी में हैं। इसके संस्थापक उमंग तिवारी और मिकी मेहता ने कहा कि इन्हीं को ध्यान में रखने हुए हमने राजधानी में सबसे पहले रेस्टोरेंट खोला।
गरम-धरम में जिंदगी की बुनियादी चीजों अच्छे खाने और अच्छे संगीत का जोड़ है। दिल्ली में लजीज खाना, शानदार सेवाएं आदि मुहैया करवा कर अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराई है जहां पर आप अपने दादी-बाबा, नाना-नानी और बच्चों के साथ जा सकते हैं। यह राष्ट्रीय राजमार्ग में सफर के दौरान खानपान को लेकर बदलाव लेकर आया है जो आपने पहले कभी नहीं देखा होगा। यहां तीन सेक्शन हैं। पहले सेक्शन में मिठाइयां है इसमें देशी और विदेशी मिठाइयां है। हां बेकरी और मिठाई सेक्शन में आपको पारंपरिक लजीज व्यंजनों के साथ-साथ कई नए फ्लेवर भी मिल जाएंगे। दूसरा सेक्शन कल्चरल गूली का है जिसमें दक्षिण भारतीय व्यंजन, चीनी व्यंजन और चाट हैं। इसमें मुख्य डाइनिंग सेक्शन है जो प्राइवेट डाइनिंग रूम, लाउंज सिटिंग, बफे सेक्शन और कई अन्य हिस्सों में है। जब खाने की बात आती है तो लोग सबसे अच्छा चाहते हैं. ढाबे का नया रूप है गरम धरम। जहां पर आप ग्रेट फूड का मजा ले सकते हैं। इसमें हरेक की पसंद की वस्तु मैन्यू में है।
यहां पर कई ऐसे पाइंटस हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे। इसके प्रवेश पर ही बड़ी सी टंकी है जो आपको धर्मेद्र के यादगार टंकी के सीन को याद दिलाएगी। यहां पर आपको धर्मेन्द्र की कई क्लासिक मूवीज की आपको याद आएगी। यहां पर धर्मेन्द्र के पोस्टर हैं। डायलाॅग हैं। गर्म धर्म की दीवारें ग्रेफाइट से बनी हैं जो थीम इंटीरियर को बयां करती हैं। यहां पर सभी कुछ है। उमंग तेवानी और मिकी मेहता ने कहा कि गर्म धर्म को लोगो ने बहुत पसंद किया है। लिहाजा हम मुनासिब दामों में आपको सर्वश्रेष्ठ सुविधा देना चाहते हैं। हम यहां पर किसी भी चीज से समझौता नहीं कर रहे हैं। इससे आपको अद्भत अनुभव मिलेगा। यह स्थान हरेक आयु वर्ग के लिए बेहतरीन है। यह तय है कि आपको यहां पर लजीज व्यंजन मिलेंगे और आप आराम से अपने मित्रों और बैठ सकते हैं। आप जब भी यहां खाना खाएंगे तो आपको आजकल के नए ढाबे की याद ताजा हो जाएगी।
इसलिए अगली बार जब आप हाईवे पर आएं तो अपने दोस्तों के साथ गरम-धरम पर आएं। यहां पर आपको यादगार लम्हे मिलेंगे। आपको ऐसा अनुभव मिलेगा जो पहले आपको कभी नहीं मिला होगा। यहां के ग्रेट पैकेज में गुड फूड, शानदार अनुभूति और स्टारडम से प्रेरित इंटीरियर मिलेगा। इसे इस तरह डिजाइन किया गया है कि आपको यहां सबसे अच्छी चीजें मिलें, और यह है गरम-धरम।
समय – 24 घंटे खुला है।
दो लोगों के लिए खाना – 600 रुपए प्लस टैक्स।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *