मलिन बस्ती में रहने वाली बेटियों व महिलाओं के लिए दिल्ली पुलिस व लाडली फाउंडेशन द्वारा एक अनूठी पहल

नई दिल्ली। महिलाओं की सुरक्षा व उनके साथ होने वाले अपराधों को रोकने के प्रति दिल्लीवासियों को जागरूक करने के लिए दिल्ली पुलिस एवम् लाडली फाउंडेशन के तत्वाधान में 17 दिसंबर, 2017 को जेएलएन स्टेडियम, नई दिल्ली में देश के माननीय गृह मंत्री द्वारा एक अनूठी मैराथन ‘रन फॉर लाडली’ के रूप में उद्घाटन किया गया, अब तक के सबके विशाल जागरूकता कार्यक्रम को करने के पश्चात् मलिन बस्तियों में रह रही कम उम्र की अनपढ़ लड़कियों व महिलाओं के साथ हो रहे यौन शोषण व स्वास्थ्य की चिंता करते हुए उन्हें यौन संक्रमण से बचाने व किसी भी प्रकार के यौन उत्पीड़न के प्रति जागरूक करने के लिए फिर से दिल्ली पुलिस व लाडली फाउंडेशन ट्रस्ट ने ‘सहेली’ नाम से सभी मलिन बस्तियों में स्वास्थ्य जाँच व जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत शिविर लगाने की अनूठी पहल की है।
गरीब परिवार में जन्मी बेटियों की शिक्षा व सामूहिक विवाह के माध्यम से उनके पुनर्वास के लिए कार्य कर अब तक 15000 बेटियों को सशक्त कर चुके लाडली फाउंडेशन के संस्थापक व राष्टीय पुरूस्कार विजेता श्री देवेन्द्र कुमार गुप्ता द्वारा इस कार्यक्रम की शुरुआत की गई है, जिसका मुख्य उद्देश्य कम उम्र की अनपढ़ लड़कियों के साथ उन्ही के परिचितों द्वारा किये जा रहे यौन शोषण को शुरुआत में ही रोकने व अशिक्षित होने के कारण असुरक्षित यौन संबंधो से संक्रमण का शिकार होने से पूर्व व यौन संक्रमण के कारण फैलने वाली जानलेवा बीमारियों के बारे में जागरूक करना है।
इस कार्यक्रम के तहत पहला शिविर दिल्ली के वसंत कुंज स्थित रंगपुरी पहाड़ी बस्ती में, रविवार 8 अप्रैल 2018 को प्रातः 10ः00 बजे से शाम 6ः00 बजे तक लगाया जायेगा, डाक्टर संजय गुप्ता की अध्यक्षता में जाने माने चिकित्सको द्वारा लगभग 1200 लड़कियों व महिलाओं के स्वास्थ्य जाँच सहित जरूरी रक्त जाँच भी की जाएगी व प्रशिक्षित महिला परामर्शदाताओं द्वारा अच्छे – बुरे स्पर्श के बारे में जानकारी सहित यौन संक्रमण के बारे में भी जागरूक किया जायेगा, जिसको देश की सबसे बड़ी महारत्न तेल एवं प्राकृतिक गैस कंपनी ओ.एन.जी.सी. अपने सी.एस.आर. निधि द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। कार्यक्रम के दौरान अतरिक्त पुलिस उपायुक्त श्री मति मोनिका भारद्वाज, एसीपी श्री कुकरेती सहित वरिष्ठ समाजसेवी सत्य भूषण जैन व श्री भारत भूषण जी द्वारा संयोजित किया जायेगा व कार्यक्रम को सुचारू रूप से क्रियान्वित करने की जिम्मेदारी कार्यक्रम की प्रमुख समन्वयक कुमारी तान्या चड्डा की रहेगी।
कार्यकम के सहेली नाम से अभिप्राय यह है की कम उम्र की बेटियों को उनकी माँ के साथ बैठा कर उक्त विषयो पर चर्चा की जाएगी और माँ-बेटी के बीच सहेली वाला सम्बन्ध स्थापित करने के लिए उनको प्रेरित किया जायेगा जिससे छोटी उम्र की बेटियां अपने साथ होने वाले किसी भी प्रकार के गलत प्रयास को बिना भय के माँ के साथ साझा कर पाएं और होने वाले अपराध को शुरुआत में ही रोका जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *