01 जनवरी 2019 से दिल्ली मेट्रो के सभी लाइन (केवल लाइन -1को छोड़कर) में महिलाओं के लिए आरक्षित होने वाली ट्रेन का पहला कोच

नई दिल्ली। डीएमआरसी नेटवर्क में सभी मेट्रो स्टेशनों के बीच यात्रियों को अधिक सुविधा सुनिश्चित करने और एकरूपता बनाए रखने के लिए, ट्रेन की चलती दिशा में पहला कोच महिला कोच  w.e.f. 1 जनवरी 2019 को लाइन -1 को छोड़कर सभी लाइनों पर जहां इसे गाजियाबाद तक शीघ्र ही विस्तारित किया जाएगा।
अब तक, लाइन 1 (रेड लाइन-दिलशाद गार्डन से रिठाला) के टर्मिनल स्टेशनों पर पहला और आखिरी कोच), लाइन 5 (ग्रीन लाइन- इंद्रलोक ध् कीर्ति नगर से ब्रिगेडियर)। होशियार सिंह), लाइन 6 (वायलेट लाइन – कश्मीरी गेट टू राजा नाहर सिंह), लाइन 7 (पिंक लाइन- मजलिस पार्क से मयूर विहार पाॅकेट-1 और त्रिलोकपुरी-संजय लेक टू शिव विहार) और लाइन 8 (मैजेंटा लाइन- वनस्पति उद्यान जनकपुरी पश्चिम को)) को क्रमशः यूपी और डाउन लाइन में लेडीज कोच के रूप में इस्तेमाल किया गया था।
इस बारे में ट्रेनों और स्टेशनों में आवश्यक घोषणाएं नई व्यवस्था के लिए सुचारू परिवर्तन सुनिश्चित करने के लिए की जाएंगी। साथ ही, इन रेखाओं के सभी स्टेशनों पर फ्लोर ग्राफिक्स और ‘वूमन ओनली’ हैंगिंग साइनेज हटाए और तय किए जा रहे हैं। बाकी कॉरिडोर (लाइन 2 और लाइन -3/4) पर, पहले और ऊपर और नीचे दोनों दिशाओं में पहले कोच को केवल महिला ’कोच के रूप में इस्तेमाल किया गया था और अब भी यह जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *