देश में प्रसारण मानकों में सुधार लाने के लिए बांग्लादेश प्रीमियर लीग ने ब्रॉडकास्टिंग में आधुनिक तकनीक अपनाई

नई दिल्ली। बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल-2019) के इस सीजन में फील्ड में कई आधुनिक गैजेट्स की झड़ी लगाकर एडवांस टेक्नोलॉजी की जबर्दस्त डोज से क्रिकेट के दीवानों को रूबरू कराया है। टी-20 लीग में इस बार कई इंटरनेशनल सितारों, जैसे ल्यूक रोंची, सुनील नारायण, कैरोन पोलार्ड, आंद्रे रसल, डेविड वार्नर, इमरान ताहिर, कार्लोस ब्रेथवेट, क्रिस गेल, एबी डिविलियर्स, एलेक्स हेल्स, स्टीव स्मिथ अपना जलवा दिखा रहे हैं। अब बीपीएल के क्रिकेट मैचों के प्रसारण को देखकर दुनिया भर के दर्शकों को ऐसा लग रहा है जैसे वह ऑस्ट्रेलिया से प्रसारित होने वाले टी-20 मैच देख रहे हैं।
डोमेस्टिक व्यूअरशिप के मानकों में क्रांतिकारी बदलाव लाने और बांग्लादेश प्रीमियर लीग को देखने का दुनिया का नजरिया बदलने के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने इस साल के बीपीएल सीजन में जबर्दस्त बदलाव किए हैं, जिन्हें एक हद तक आक्रामक कहा जा सकता है।
बांग्लादेश की घरेलू टी-20 लीग दुनिया में अव्वल दर्जे की डोमेस्टिक लीग बनने का अपनी ओर से जोरदार प्रयास कर रही है इसलिए बीपीएल प्रसारण को विश्व स्तर के मानकों के बराबर खड़ा करने के लिए आधुनिक हाईटेक गैजेट्स का इस्तेमाल कर इसमें कुछ बड़े और महत्वपूर्ण तकनीकी बदलाव किए गए हैं। लेटेस्ट स्टंप कैमरा से लेकर स्पाइडर कैम और स्टेडियम में ड्रोन के इस्तेमाल से इस साल का बीपीएल आईपीएल और बीबीएल को टक्कर देने की स्थिति में पहुंच चुका है। इस बार बीपीएल के मैच अपनी टीवी स्क्रीन पर देखते हुए लाखों फैंस को नए और अनोखे अनुभव का अहसास होगा।
बीसीबी ने क्रिकेट मैचों के सीधे प्रसारण और कवरेज के लिए ब्राडकांस्टिंग की दुनिया में जाना-माना नाम बन चुके टॉम फिनले और उनकी फर्म को हायर किया है। फिनले 10 आईपीएल सीजन की कवरेज कर चुके हैं और उनके पास बड़े स्पोर्टिंग इवेंट को हैंडल करने का जर्बदस्त अनुभव है।
बीपीएल में पहली बार ड्रोन कैमरे को पेश किया गया है, जो मैच देखने के अनुभव को बिल्कुल नए लेवल पर ले जाएंगे। स्टेडियम में इस बार स्पाइडर कैमरे लगाए गए हैं, जो पिच से मारे गए टॉप एंगल शॉट्स को काफी खूबसूरती से कवर कर रहे हैं। आईपीएल, बीबीएल और दुनिया के कई देशों में इंटरनेशनल मैच के दौरान स्पाइडर कैम का इस्तेमाल किया जाता है। अब इस सीजन से इनका इस्तेमाल बीपीएल में भी शुरू हो गया है।
बीपीएल के मैचों में इस बार 35 कैमरों का बिग सेटअप इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसमें 18 कैमरे ऐसे हैं, जिसका प्रयोग कैमरामैन मैन्युली कर रहे हैं। ये स्टेडियम में बेहद महत्वपूर्ण तीन जगहों पर फिट किए गए हैं, जिससे ग्राउंड का कोई भी कोना कैमरे की नजर से बच न सके। ये कैमरे न केवल ग्राउंड की 360 डिग्री कवरेज दर्शकों को मुहैया करा रहे हैं, बल्कि यह भी सुनिश्चित कर रहे हैं कि इसमें खिलाड़ियों का हर स्टाइल और हर एक्टिविटी कैद हो सके। इससे फील्ड पर खेल भावना के खिलाफ कोई भी गलत कदम नहीं उठाए जा सकेंगे।
बांग्लादेश के क्रिकेट के इतिहास में पहली बार मैचों में दोतरफा स्टंप कैमरों का इस्तेमाल किया जा रहा है। स्टंप में फ्रंट और बैक कैमरे फिट किए गए हैं, जिससे टीवी पर मैच देख रहे दर्शकों को क्रीज के आगे और पीछे क्या हो रहा है, इसका पूरा नजारा देखने को मिल रहा है। बीपीएल के आयोजकों ने पहली बार जिंग बॉल लाइटिंग टेक्नोलॉजी को पेश किया है। अगर स्टंप के संपर्क में कोई भी चीज आती है तो स्टंप में फिक्स की गई लाइट्स फ्लैश होने लगती है। अगर मैच के दौरान कोई विकेट गिरता है तो जिंग फ्लैशिंग क्रिकेट स्टंप्स से दर्शकों को इसका तुरंत पता चलता है। इससे दर्शक मैचों से खुद को बेहतरीन ढंग से जोड़ पा रहे हैं।
बीपीएल में डिसीजन रिव्यू सिस्टम को भी पहली बार पेश किया है। इसके लिए ब्रॉडकास्टर्स 2 अल्ट्रा मोशन कैमरों का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे क्रिकेट मैचों के दैरान बांग्लादेश के खचाखच भरे स्टेडियम में शोर मचाते दर्शकों के बीच बॉल से बैट का हल्का सा किनारा लगने पर अंपायरों को तुरंत इसका पता लग रहा है। बीपीएल के इस सीजन में पहली बार हॉक आई टेक्नोलॉजी का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। लेग बिफोर विकेट (एलबीडब्ल्यू) का फैसला देने में अंपायरों को इस तकनीक से तुरंत यह पता चल रहा है कि बॉल पैड के बीचों बीच लगी है या पैड के ऊपर नीचे लगी है। अंपायर कैमरा का इस साल बीपीएल में पहली बार इस्तेमाल किया जा रहा है।
बीपीएल एक प्रमुख टी-20 लीग के तौर पर उभर रहा है। यह किक्रेट के ब्रैंड और इसमें शामिल किक्रेट के जुनून में डूबे दीवाने दुनिया भर के दर्शकों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। इसलिए बीसीबी ने क्रिकेट मैचों के प्रसारण में ग्लोबल मानकों की कसौटी पर खरा उतरने और दुनिया के ज्यादा से ज्यादा दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए आधुनिक तकनीक को अपनाने के विकल्प का चयन किया है।
बीपीएल के इस सीजन में दुनिया भर के कई बड़े और जाने-माने क्रिकेटर जैसे ल्यूक रोंची, स्टीव स्मिथ, सुनील नारायण, केरोन पोलार्ड, आंद्रे रसल, डेविड वार्नर, इमरान ताहिर, कार्लोस ब्रेथवेट, क्रिस गेल, एबी डिविलियर्स, एलेक्स हेल्स, लासिथ मलिंगा, इवन लुईस बांग्लादेश के कई इंटरनेशनल और घरेलू क्रिकेट खिलाड़ियों के साथ एक्शन में नजर आ रहे हैं।
पिछले साल बीपीएल का फाइनल जीतकर चैंपियन के तौर पर उभरी रंगपुर राइडर्स का सपोर्ट कर रहे मोबिन अंसारी ने कहा, “मैं लगातार दूसरी बार अपनी फेवरेट टीम रंगपुर राइडर्स को बीपीएल ट्रॉफी जीतते देखना चाहता हूं। मैं क्रिकेट की दुनिया के बॉस क्रिस गेल को इस सीजन में हवा में उड़ते आसमानी छक्कों की बरसात करते और अपनी टीम रंगपुर राइडर्स को जीत दिलाते देखना चाहता हूं। मुझे उम्मीद है कि एबी डिविलियर्स बांग्लादेश के दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए उसी तरह की विस्फोटक बल्लेबाजी करेंगे, जैसी उन्होंने आईपीएल और अपने देश की टीम के लिए खेलते हुए की थी।“
बांग्लादेश के एक अन्य क्रिकेट फैन अशफाक हसन कहते हैं, “मैं डेविड वार्नर का बहुत बड़ा फैन है और मैं बेहद खुश हूं कि वह सिलेहट सिक्सर्स के कैप्टन हैं। उनकी टीम में कई जाने-माने इंटरनेशनल क्रिकेट खिलाड़ियों और बांग्लादेशी क्रिकेट खिलाड़ियों का बेहतरीन मिक्सचर है। मैंने उन्हें आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद की कप्तानी करते देखा है। उनकी कप्तानी में सनराइजर्स हैदराबाद आईपीएल की ट्रॉफी भी जीत चुकी है। मुझे उम्मीद है कि वह बीपीएल में सिल्हट सिक्सर्स को अपने उसी दिलकश अंदाज में ट्रॉफी दिलाएंगे। यह देखकर खुशी होती है कि हमारी होम लीग अब गेम के हर पहलू में इंटरनेशनल क्रिकेट को टक्कर दे रही है। ब्रॉडकास्टर्स इस बार क्रिकेट मैचों के प्रसारण के लिए कई आधुनिक गैजेट्स का इस्तमाल कर रहे हैं, जिसने टीवी पर मैच देख रहे दर्शकों भी क्रिकेट मैचों के प्रसारण की नई परिभाषा से रूबरू कराया है।“

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *