इन स्मार्ट चार्जिंग टिप्स से बेहतर होगी फोन की परफॉर्मेंस

यूं तो स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए ढ़ेरों टिप्स अब तक आप पढ़ ही चुके होंगे, लेकिन फोन की बैटरी बचाने के तरीकों के अलावा और क्या उपाय हो सकता है फोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने का सोचा है आपने? दरअसल फोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने से ज्यादा अगर फोन को सही और स्मार्ट तरीकों से चार्ज करने पर ध्यान दिया जाएं तो सही मायने में आपको स्मार्टफोन सुरक्षित होगा। आज हम आपको अपने स्मार्टफोन की बैटरी चार्ज करने के कुछ ऐसे ही स्मार्ट तरीके सुझाएंगे, जिनसे फोन की बैटरी ज्यादा दिन तक चलेगी, दूसरे शब्दों में कहा जाए तो आपको स्मार्ट चार्जिंग के टिप्स नीचे दिए गए हैं :

  • अनब्रांडेड या दूसरे चार्जर से बचें :
    फोन हमेशा अपने ही चार्जर से चार्ज करें यानि स्मार्टफोन खरीदते समय जो चार्जर साथ मिला है उसी से फोन को चार्ज करें। अनब्रांडेड या दूसरे फोन का चार्जर आपके फोन की बैटरी लाइफ को नुकसान पहुंचाता है जबकि सेल्स पैक में साथ मिला चार्जर उतना ही वोल्टेज फोन को देगा जितने की उसे जरूरत है, इतना ही नहीं जहां तक हो सकें मल्टी चार्जिंग से बचें। बहुत बार लोग कार या घर में फोन को चार्ज करने के लिए उसे मल्टी चार्जर पर लगा देते हैं इससे भी फोन की बैटरी डैमेज होती है।
  • पूरा डिस्चार्ज होने से पहले चार्ज करें :
    बहुत लोग सोचते हैं कि फोन की बैटरी जितना खींच सकती है खींचो, कुछ लोग मानते हैं कि फोन को हफ्ते में एक बार पूरी तरह डिस्चार्ज करके फुल चार्ज करना चाहिए, लेकिन यह सही तरीके नहीं हैं। ध्यान दें कि फोन बार-बार डिस्चार्ज न हो। एक टेक फर्म के अनुसार आपके फोन के लिए आइडियल चार्जिंग का प्रतिशत 40-80 फीसदी होना ज्यादा बेहतर साबित होता है और पूरी तरह डिस्चार्ज बैटरी से स्मार्टफोन की क्षमता घटती है।
  • फोन को चार्जर ओनली मोड पर चार्ज करें :
    लोग अक्सर अपना चार्जर जब कहीं भूल जाते हैं तो यूएसबी केबल से फोन को चार्ज करते हैं लेकिन यहां भी स्मार्ट चार्जिंग की जरूरत पड़ती है। ध्यान रखें कि यूएसबी से चार्जिंग के टाइम डाटा ट्रांसफर न करें और फोन को चार्जर ओनली मोड पर रखकर ही चार्ज करें, इससे टाइम तो बचेगा ही साथ ही फोन की परफॉर्मेंस भी ठीक रहेगी।
  • पुरानी बैटरी का उपयोग न करें :
    आप स्मार्टफोन के साथ मिली बैटरी को साल दर साल इस्तेमाल करते रहते हैं पर शायद आपको पता नहीं कि बैटरी यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट के अनुसार एक साल के इस्तेमाल के बाद बैटरी की कार्यक्षमता घटने लगती है। इसलिए अगर बैटरी एक साल से ज्यादा पुरानी हो गई है तो उसे बदल दें क्योंकि वही पुरानी बैटरी से चार्जिंग में न केवल टाइम ज्यादा खर्च होगा साथ ही बैकअप भी कम हो जाएगा।
  • कॉमन चार्जर से बैटरी चार्ज न करें :
    मार्केट में ऐसे बहुत से इलेक्ट्रोनिक्स आइटम्स है जिनको चार्ज करने के ले एक समान चार्जर का इस्तेमाल होता है यानि कॉमन चार्जर का प्रयोग होता है,लेकिन याद रखें की सभी इलेक्ट्रोनिक्स गैजेट्स एक समान वोल्टेज पर चार्ज नहीं होते क्योंकि प्रत्येक डिवाइस में वोल्टेज का स्केल अलग होता है। इसलिए कॉमन चार्जर से चार्ज करने पर इलेक्ट्रोनिक्स डिवाइस को क्षति पहुंचती है। इनके प्रयोग से बचें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *