ब्रित्जो ने ‘मेक इन इंडिया’ उपक्रम की ओर 100 करोड़ रुपए का निवेश करने के साथ भारत में संचालन की शुरुआत की

नई दिल्ली। अब ग्रामीण भारत का सर्वत्र डिजिटाइजेशन करने के लक्ष्य के साथ, अग्रणी संचार कंपनी ब्रित्जो ने भारतीय मोबाइल फोन के साथ बाजार में कदम रख दिया है। यह ब्रांड आईसीटी और (सूचना और संचार तकनीक) में महत्वपूर्ण उन्नति का लाभ उठाता है और एक पोर्टफोलियो का निर्माण कर रहा है जिसमें मूल्य-प्रभावी कीमतों पर ‘स्मार्ट’ फीचर फोन की प्रस्तुतियां शामिल हैं। ये प्रस्तुतियां भारत में टिअर-3, टिअर-4 और टिअर-5 बाजारों के उपभोक्ता पर लक्षित रहेंगी।
प्रदीप्तो गांगुली और धरमवीर शॉ के दिमाग की उपज, इस नवाचार चालित ब्रांड का ध्येय फीचर फोन्उ का एक उन्नत विकल्प प्रस्तुत करके देश के ग्रामीण अंचल को डिजिटली सक्षम बनाना है। ब्रित्जो का प्रयोजन अपने ग्राहकों के लिए सहजता से आधुनिक तकनीकी सुविधाएं उपलब्ध कराना है, साथ ही डिजिटल तकनीकों को उत्तरोत्तर उनकी दैनिक जीवनशैली का हिस्सा बनाना भी। ब्रित्जो भारत और चीन में अपने अत्याधुनिक संयंत्रों में इसके लिए व्यापक आरएंडडी के आधार पर विशेष रूप से स्मार्ट फीचर फोन की प्रस्तुतियों का एक उत्पाद पोर्टफोलिया बना रहा है।
प्रदीप्तो गांगुली, सीईओ और सह-संस्थापक – ब्रित्जो ने कहा, “भारत के ग्रामीण भूगोल में, भले ही देश की कुल आबादी का लगभग दो-तिहाई हिस्सा रहता हो, लेकिन वे अब भी उस बड़े स्तर के डिजिटाइजेशन से काफी हद तक अनछुए हैं, जो वर्तमान में देश भर में विस्तार कर रहा है। ब्रित्जो की शुरुआत करके, हमारा अति महत्वपूर्ण उद्देश्य किफायती कीमतों पर, उत्कृष्ट स्मार्ट मोबिलिटी प्रस्तुतियां देकर, अत्याधुनिक तकनीकों से सशक्त बनाकर इस ग्रामीण आबादी को आॅनलाइन लाना है।”
ब्रित्जो की उत्पादन इकाई गुणवत्ता प्रबंधन आईएसओ 9001: 2015 से प्रमाणित है और यह देश के औसत से अधिक गुणवत्ता मानक सुनिश्चित करने के लिए 20 से अधिक क्यूसी विधियों (स्वचालित और मैनुअल क्यूसी सहित) को निगमित करती है। इसके अलावा, इस ब्रांड के पास मार्केट रिसर्च से चालित इनलाइन क्यूसी और वैयक्ति क्यूसी जांच स्थल है, और सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर गुणवत्ती की जांच करने के लिए इसने विशेष टेस्टिंग टीम बनाई है। कंपनी ने ई-वेस्ट रिसाइकिल प्रबंधन के साथ अपनी प्रक्रियाओं को पर्यावरण के अनुकूल भी बनाया है और इसकी योजना मेक इन इंडिया पहल के लिए 100 करोड़ रुपए निवेश करने की भी है।
ब्रित्जो की मंशा इस अवधि के दौरान 3 प्रतिषत भारतीय मोबाइल फोन बाजार का साझा सुरक्षित करने की है। इसका लक्ष्य अपने विस्तार के पहले चरण के दौरान यूपी, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, बिहार, झारखंड, राजस्थान, एनईएसए और गुजरात सहित 17 राज्यों में शुरुआत करके अपने इस लक्ष्य को हासिल करना है। यह कंपनी फिर वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में भारत के अन्य मोबाइल फोन बाजारों को लक्षित करेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *