फिल्में बच्चों को शिक्षित करने का सबसे अच्छा माध्यम है : रवीना टंडन

बॉलीवुड की अभिनेत्री रवीना टंडन ने स्माइल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल फॉर चिल्ड्रन एंड यूथ (सिफ्सी) के सोमवार को तीसरे संस्करण का उद्धघाटन करते हुए कहा कि,’यह एक ऐसा फिल्म महोत्सव है जिस पर हर किसी को गर्व होना चाहिए। यह पूरी तरह से बच्चों के लिए है। मैं चाहती हूं कि बच्चे यह संकल्प लें कि वे यहां से जो कुछ भी सीखेंगे, उनका अनुसरण अपने दैनिक जीवन में करेंगे।’
उनका कहना है कि, ‘फिल्में हमारे बच्चों को शिक्षित करने का सबसे अच्छा माध्यम है, और इसलिए मैं सिफ्सी को भी धन्यवाद देना चाहती हूं जिसने हमारे बच्चों में अच्छाई का संचार करने के लिए एक माध्यम के रूप में काम किया, क्योंकि बच्चों के लिए क्या सही है और क्या गलत, यह बात उन्हें सिखाने का सही समय है।’
इतना ही नहीं स्माइल फाउंडेशन के एक्जीक्यूटिव ट्रस्टी और सिफ्सी के अध्यक्ष शांतनु मिश्रा ने कहा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि सिफ्सी के माध्यम से, हम बच्चों व युवाओं की ऊर्जा को एक सकारात्मक तरीके से मार्ग दिखाने और सामाजिक परिवर्तन लाने की प्रक्रिया में उन्हें सक्रिय रूप से शामिल करने में सक्षम होंगे।’
महोत्सव के निदेशक जीतेन्द्र मिश्रा ने कहा, ‘फिल्म निर्माण, सिनेमेटोग्राफी, साउंड डिजाइन, प्रोडक्शन डिजाइन, स्टोरी टेलिंग और फोटोग्राफी पर इंडस्ट्री के विशेषज्ञों द्वारा नियमित तकनीकी वर्कशॉप्स के अलावा, हमने ‘पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन’, ‘सड़क सुरक्षा’, ‘जीवन कौशल का विकास’ और सिनेमा की भूमिका पर पैनल चर्चा और मंचों का आयोजन भी किया है।’ बता दें 30 से ज्यादा देशों से 100 से ज्यादा फिल्मों को इस साल के फेस्टिवल में प्रदर्शित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *